बजट 2022: वित्त मंत्री निर्मला सीता रमण की घोषणा अब  सरकार इलेक्ट्रिक व्हीकल के लिए  बनाएगी स्पेशल मोबिलिटी जोन

Electric Vehicle

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इलेक्ट्रिक व्हीकल को बढ़ावा देने के लिए स्पेशल मोबिलिटी ज़ोन बनाने की घोषणा की है|

By whitekoo.com

February 1, 2022

बैटरी स्वैपिंग पालिसी 

1

सरकार जल्द ही बैटरी  स्वैपिंग पालिसी भी लाने जाया रही है जिसके अंतर्गत और इलेक्ट्रिक व्हीकल को चार्जिंग में लगने वाले समय में काफी कमी आ जायेगी | अब मिनटों में आप बैटरी स्वैपिंग स्टेशन से आप अपनी डिस्चार्ज बैटरी को देकर चार्ज बैटरी तुरन्त प्राप्त कर सकेंगे |

इस तकनीक के आने से अब लम्बी दूरी की यात्रा करना सहज और सरल हो जाएगा | आपको बतेरी चाजिंग में लगने वाले समय की भी चिंता नहीं करनी है | पूरी प्रक्रिया अतोमेटेड हो जाने पर मात्र 2 मिनट में आपकी इलेक्ट्रिक वाहन की बैटरी चार्ज हो जाएगी |

02

No more impulse buys! Everything you want goes into a tracking sheet. Set a date to go over your wish list and decide if you still feel strongly about a potential purchase.

Set Rules

स्पेशल मोबिलिटी ज़ोन | Special Mobility Zone in Hindi  :

स्पेशल मोबिलिटी ज़ोन के अंतर्गत शहरों में ऐसे स्पेशल या विशेष क्षेत्र विकसित किये जायेंगे जीमे सिर्फ इलेक्ट्रिक वाहनों को चलाने के अनुमति होगी | इस क्षेत्र में कोई भी वाहन जीवाश्म से निकले इधन से नहीं चलेगा | जीवाश्म से निकले ईधन के अंतर्गत पेट्रोल, डीजल ,कोयला इत्यादि आते हैं |

Fस्पेशल मोबिलिटी जोन | Special Mobility zone की योजना आने से ना केवल इलेक्ट्रिक व्हीकल उद्योग को बढ़ावा मिलेगा बल्कि इससे पब्लिक ट्रांसपोर्ट को भी बढ़ावा मिलेगा | जीवाश्म आधारित ईधन पर निर्भरता घटेगी साथ ही साथ प्रदुषण नितंत्रण में भी सहायता मिलेगी |

प्रदूषण पर लगेगी लगाम

बैटरी स्वैपिंग के लिए सौर उर्जा  | 

बैटरी स्वैपिंग के स्टेशनों पर अब बैटरी की चार्जिंग के लिए सौर उर्जा का प्रयोग किया जाएगा | इससे ना केवल गैसोलीन ईधनो या जीवाश्म आधारित ईधनो पर हमारी निर्भरता घटेगी बल्कि यह ग्रीन एनर्जी की मुहीम को और आगे ले जाने हेतु एक सकारात्मक कदम होगा |